बेटियों को सरकार का तोहफा – “सुकन्या समृद्धि योजना”

sukanya yojna

सुकन्या समृद्धि योजना भारत सरकार द्वारा भारत में उन परिवारों की मदद करने के लिए एक बेहतरीन योजना है, जो बालिकाओं की शिक्षा पर होने वाले खर्च और लड़की के अन्य खर्चों की वजह से अपने परिवार में बालिकाओं की अनुमति नहीं दे रहे हैं। इस समस्या को देखने के लिए भारत सरकार ने भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र दामोदरदास मोदी के नेतृत्व में एक पहल की है। यह देश के सभी हिस्सों में एक नई और पूरी तरह से लागू योजना है। चाहे आप किसी भी राज्य में रहें आप इस महान योजना का लाभ उठा सकते हैं। एक बहुत अच्छे विचार के साथ और एक उचित ढांचे के साथ भारत सरकार ने इस योजना को आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को बालिकाओं को जन्म देने और उन्हें अपने जीवन में सफल होने के लिए प्रोत्साहित करने में मदद करने के लिए शुरू किया है।

Contents hide

सुकन्या समृद्धि योजना क्या है?

Contents

  • यह योजना 22 जनवरी 2015 को भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू की गई थी।
  • यह योजना भारत सरकार की “बेटी बचाओ बेटी पढाओ” योजना की उत्तराधिकारी है।
  • यह योजना लॉन्चिंग के शुरुआती चरण में लगभग 9% की सबसे आकर्षक ब्याज दर है।
  • न्यूनतम जमा राशि बहुत कम है क्योंकि यह एक महीने में 1000 रुपये से शुरू होकर 150000 रुपये तक है।
  • यह योजना मध्यम वर्ग के निश्चित वेतन आय वाले लोगों के लिए सबसे उपयुक्त है।
  • यह योजना बालिकाओं के जन्म और अधिकतम 10 वर्ष की आयु में शुरू की जा सकती है।
  • इस योजना में मासिक किस्तों की राशि बालिकाओं की 21 वर्ष की आयु तक है।
  • लाभार्थी के माता-पिता योजना की 50 प्रतिशत राशि लड़की की शादी में निकाल सकते हैं।

Sukanya Samriddhi Yojana में सरकार की तरफ से रखी गयी ब्याज दरें

Serial Number Financial Year Date Range Interest Rate Minimum Investment Maximum Investment
1 2014-15 1 April 2014 to 31 March 2015 9.1% 1,000 1,50,000
2 2015-16 1 April 2015 to 31 March 2016 9.2% 1,000 1,50,000
3 2016-17 1 April 2016 to 30 Sep 2016 8.6% 1,000 1,50,000
4 2016-17 1 Oct 2016 to 31 Mar 2017 8.5% 1,000 1,50,000
5 2017-18 1 April 2017 to 30 June 2017 8.4% 1,000 1,50,000
6 2017-18 1 July 2017 to 31 December 2017 8.3% 1,000 1,50,000
7 2017-18 1 January 2018 to 31 March 2018 8.1% 1,000 1,50,000
8 2018-19 1 April 2018 to 30 September 2018 8.1% 250 1,50,000
9 2018-19 1 October 2018 to 31 March 2019 8.5% 250 1,50,000
10 2019-20 1 April 2019 to 30 June 2019 8.5% 250 1,50,000
11 2019-20 1 July 2019 to 31 March 2020[13] 8.4% 250 1,50,000

Sukanya Yojana में खाता कैसे खुलवाएं ?

sukanya samriddhi yojana 2020

भारत की इस सबसे अच्छी योजना में खाता खुलवाना बहुत आसान है सुकन्या समृद्धि योजना के लिए बेटियों के अभिभावक नजदीकी पोस्ट-ऑफिस या बैंक ने जाकर खाता खुलवा सकते हैं साथ ही भारत सरकार ने उन्हें एक मध्यम और दिया है, जिससे अभिभावक ऑनलाइन भी खाता खुलवा सकते हैं

सुकन्या समृद्धि योजना में खाता खुलवाने के लिए बिंदुवार निर्देश:

  • सबसे पहले आपको नजदीकी पोस्ट ऑफिस या बैंक से स्कीम के बारे में पूरी जानकारी लेनी होगी।
  • आवश्यक दस्तावेजों जैसे- आधार कार्ड, पैन कार्ड, लड़की का जन्म प्रमाण पत्र इत्यादि। योजना के लिए।
  • खाता खोलने की प्रक्रिया शुरू करने के लिए आपको आवश्यक डाकघरों या बैंक में जाने के लिए आवश्यक दस्तावेजों की एक फाइल बनाने के बाद।
  • खाता खोलने और योजना का लाभ लेने के लिए सुकन्या समृद्धि योजना भरें।
  • इस योजना में पहली जमा राशि के लिए पहले मासिक जमा तैयार करें।
  • अंत में परिणामस्वरूप आपको सुकन्या समृद्धि योजना 2020 खाता खोला जाएगा और भारत सरकार द्वारा सबसे अच्छी और सबसे अधिक पसंद की गई योजना का लाभ उठाएगा।

सुकन्या समृद्धि योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

samriddhi yojana form

  • सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट ओपनिंग फॉर्म।
  • बालिका का जन्म प्रमाण पत्र।
  • लाभार्थी के माता-पिता का पहचान प्रमाण।
  • लाभार्थी के अभिभावक या माता-पिता का पता प्रमाण।

सुकन्या समृद्धि योजना का खाता कब तक चलाया जा सकता है?

खाता खोलने के बाद बेटी के 21 साल के होने या 18 साल की उम्र के बाद उसकी शादी होने तक चलाया जा सकता है।

सुकन्या समृद्धि योजना के खाते में तय समय पर रकम जमा नहीं हो पाये तो ?

तय समय पर खाते में रकम जमा न होने पर 50 रूपए का अतिरिक्त शुल्क भरकर खाते को दोबारा संचालित किया जा सकता है।

सुकन्या समृद्धि योजना में अकाउंट संचालन के लिए कुछ शर्तें

  • अगर Sukanya Samriddhi Yojana Account 21 साल पूरा होने से पहले बंद कराया जा रहा है तो खाताधारक को यह प्रमाण देना पड़ेगा कि खाता बंद करने के समय उसकी उम्र 18 साल से कम नहीं है।
  • मैच्योरिटी के समय पासबुक और आहरण पर्ची (withdrawl slip) पेश करने पर खाताधारक को ब्याज सहित जमा रकम वापस कर दी जाएगी।
  • Sukanya Samriddhi Yojana 2020 के तहत खाता सिर्फ भारतीय नागरिक का खोला जा सकता है जो काफी समय से देश में रह रहा हो और मातुरित्य [Maturity] के समय भी भारत में मौजूद हो, अप्रवासी भारतीय  योजना में खाता नहीं खोल सकते।

Frequently Asked Questions


सुकन्या समृद्धि योजना किसने लागू की थी?

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने वर्ष 2015 में।


योजना में जमा की जाने वाली धन राशि?

सुकन्या योजना में प्रतिमाह 1000 रूपए से 150000 तक जमा करा सकते थे पर अब ये राशि घटा के 250 रूपए प्रति माह कर दी गई है।


इस योजना में खाता कहाँ खुलवाए जा सकते हैं?

आप अपनी बच्ची का सुकन्या अकाउंट आपके नजदीकी पोस्ट ऑफिस या बैंक की शाखा में खुलवा सकते हैं, साथ ही आप ऑनलाइन भी इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।


खाता खुलवाने के लिए बेटी की उम्र कितनी होनी चाहिए?

इस योजना का लाभ लेने के लिए बच्ची की आयु जन्म से 10 साल के बीच होनी चाहिए।

Leave a Comment