[Apply Online] प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना [PMMSY]

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना

PMMSY, अप्लाई ऑनलाइन, रजिस्ट्रेशन, प्रधानमंत्री Matsya संपदा Scheme 2020, Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana 2020:  आप सभी को यह जानने की बहुत ही ज्यादा इच्छा होगी कि आखिर मत्स्य संपदा योजना 2020 क्या है? और ऐसी योजना किन लोगों के लिए बनाई गई है? इसके क्या लाभ और हानि हो सकते हैं? ऐसे ही कई तरह के सवाल लोगों के मन में उठ रहे होंगे इन सब सवालों के जवाब दे नहीं हम आपको यहां  इस आर्टिकल को लेकर आए हैं। जिससे आपको इन सब प्रश्नों के उत्तर सही से मिल सकें।

मत्स्य Sampada योजना एक प्रकार की सरकार की तरफ से सभी मछली पकड़ने वाले मछुआरे और एवं सभी वह लोग जो  जल की मछली से अपना रोज़गार चलाते हैं, उन सभी लोगों के लिए इस योजना को बनाया गया है। ताकि उन्हें किसी बड़ी मुश्किलों का सामना ना करना पड़े। और अपना घर, रोज़गार को चला सके।

Topic Name [Apply Online] प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना [PMMSY]
Article Category प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा स्कीम 2020
Pradhan मंत्री Matsya संपदा Scheme: Benefit
मत्स्य Sampada योजना (PMMSY) का प्रभाव
प्रधान मंत्री मत्स्य सम्पदा योजना रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया
Frequently Asked Questions
State Central (केंद्र)
Official Website NIL

जैसा कि आप सब लोगों को पता है कि इस समय कोरोनावायरस (COVID-19) से पूरा देश लड़ रहा है। ऐसे में अब देश के विभिन्न प्रकार से बहुत गरीब लोगों पर इसका गहरा असर हुआ है। इन सब में वह सब लोग भी आते हैं जो हर रोज मछली को पकड़कर या उसे बेचकर अपना रोज़गार चलाते हैं। इन लोगों पर भी बहुत गहरा प्रभाव पड़ा है। तो जब कोरोनावायरस से पीड़ित सभी लोगों के लिए केंद्र सरकार की तरफ से आत्मनिर्भर योजना के तहत जो आर्थिक सहायता का कोरोना पैकेज बताया गया था, उसमें से कुछ सहायता मत्स्य Sampada योजना को भी मिलेगी।

यहां हम आपको इस लेख में प्रधानमंत्री Matsya संपदा Yojana

के बारे में पूरी जानकारी देंगे जैसे कि योजना का उद्देश्य, लाभ, साथ ही योजना में ऑनलाइन रजिस्टर कैसे करें। इस योजना में खुद को कैसे जोड़े। इन सब के बारे में आपको इस लेख में जानकारी मिल जाएगी। जैसा कि हमने आपको बताया था कि अभी कुछ दिन पहले ही केंद्र सरकार की तरफ से हमारे देश के फ़ाइनेंशियल मिनिस्टर ने पूरे देश के सामने संबोधित किया था कि इस Corona Package को किस तरह बाँटा जाए। और इस पैकेज को हर योजना में सहायता दी गई है जिससे कि पूरे भारत की अर्थव्यवस्था पूरी अच्छे से सुधर जाए और हम इस वायरस से लड़ने के लिए तैयार रह सकें। 


प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा स्कीम 2020

आप सभी को बता दें कि जो कोरोना package के बारे में पूरे देश को बताया गया है उसमें से ₹20000 करोड़ केवल और केवल हमारे देश की मछली पालन समुदाय के लिए दिया गया है। इस पैकेज से पूरे भारत देश का भोजन तैयार करने वाले लोग एवं साथ ही सभी मछली खाद्य पदार्थों को सुधारने के लिए जो भी कार्य जमीन एवं पानी में किए जाते हैं उन सब कामों के लिए इस पैकेज की जरुरत पड़ेगी।

Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana

आप सभी को बता दें कि केंद्र सरकार ने इस पैकेज को शुरू करने के लिए ज्यादा से ज्यादा योगदान भोजन के सुधार में हो और जमीन एवं पानी से लोगों को मिलने वाले भोजन में किसी भी प्रकार की कमी यह कोई हानिकारक भोजन ना मिले उन सब को देखते हुए Pradhan Mantri मत्स्य Sampada योजना के तहत ₹20000 करोड़ की स्कीम का ऐलान किया गया है। जिसमें से कुल  ₹11000 करोड़ सभी मरीन (marine), जल के अंदर कृषि (aquaculture), एवं इनलैंड fisheries पर खर्च होंगे। साथ ही ₹9000 करोड़ सभी नींव को एक साथ होते हुए में खर्च होंगे जैसे कि एंगलिंग हरबोरस एवं कोल्ड चैन।


Overview of Pradhan Mantri मत्स्य Sampada योजना

स्कीम Name Pradhan मंत्री Matsya संपदा Yojana
Govern by भारत सरकार
सभी लाभार्थी मछुआरे
उद्देश्य सभी मत्स्य कार्यकर्ताओं के काम में सुधार एवं मछली पकड़ने वाले लोगों का साथ देना
Official Website PressReleasePage 


Pradhan मंत्री Matsya संपदा Scheme: Benefit

यहां अब हम आपको इस योजना से जुड़े विभिन्न प्रकार के लाभ के बारे में बताएंगे। आप सभी लोगों को बता दें कि इस योजना का मकसद केवल और केवल हॉर्टिकल्चर को बढ़ाना है, और सभी मछली पकड़ने वाले काम में उपयोग आना है। सरकार की तरफ से PMMSY योजना सभी मत्स्य कर्मचारियों को पूर्ण रूप से शक्तिशाली एवं महान और साथ में उनके काम को आगे बढ़ाने के लिए बनाई गई है और इसका भी ध्यान रखा गया है कि उस काम में कोई भी किसी भी प्रकार की रुकावट ना आए। सरकार की तरफ से यह बताया गया है कि “ब्लू revolution” और “नीली क्रांति” सभी मछली पकड़ने वालों के लिए एक प्रकार का पहला स्थान ले सकती है। इस योजना में सरकार की तरफ़ से सभी MoFPI की सभी yojna है, जैसे कि- फ़ूड Safety, फ़ूड Park एवं इंफ्रास्ट्रक्चर।


PMMSY Implementation 

जैसा कि हमने आपको बताया है कि केंद्र सरकार की तरफ से 20000 करोड़ का पैकेज प्रधान मंत्री मुद्रा योजना को दिया गया है। इस पैकेज में सभी इंफ्रास्ट्रक्चर, एवं मत्स्य कर्मचारी शामिल है। लगभग 334 लाख मीट्रिक टन कृषि-उपज का उपचार 1 लाख 4 हजार 125 करोड़ रुपये का है।

Pradhanmantri matsya sampada yojana

इस योजना से 2 मिलियन रैंकर को बहुत ही ज्यादा लाभ होने वाला है, और आपको साथ ही यह भी बता दें कि 2019-2020 में पूरे भारत में 5 लाख 30 हजार इंस्टेंट या बैकहैंड काम करने वाले उत्पादन करेंगे। इस योजना से ₹11000 करोड़ सभी मरीन (marine), जल के अंदर कृषि (aquaculture), एवं इनलैंड fisheries पर खर्च होंगे। साथ ही ₹9000 करोड़ सभी नींव को एक साथ होते हुए में खर्च होंगे जैसे कि एंगलिंग हरबोरस एवं कोल्ड चैन।


मत्स्य संपदा योजना का उद्देश्य

यहां अब हम आपको इस योजना से जुड़े कुछ उद्देश्यों के बारे में बताएंगे जो कुछ इस प्रकार हैं। आप सभी नीचे दिए गए स्टेप्स को ध्यान से पढ़ें।

  • इस योजना से सभी रैंच entryway से रिटेल आउटलेट तक की अभी के framework में सुधार होगा होगा।
  • इस योजना से सभी भोजन को तैयार करने वाले हिस्से में भी सुधार होगा।
  • इस योजना से पूरे भारत देश की GDP, एम्प्लॉयमेंट एवं venture में सुधार होगा।
  • यह योजना सभी प्रकार के हॉर्टिकल्चर के gigantic wastage को कम करने में मदद करती है।
  • यह सभी ranchers को एक अच्छी सैलरी एवं उनकी सैलरी को दोगुना करने में मदद मदद करती है।
  • इस योजना से सभी मत्स्य कर्मचारियों के इकोनोमिकल, capable, कम्प्रेहैन्सिव का पता चल सकेगा।
  • इस योजना से सभी मत्स्य निर्माण और efficiency में डवलपमेंट, heightening, ब्रोएडेनिंग, एवं ज़मीन और पानी द्वारा सुधार किया जाएगा।
  • सभी एक्टिव fisheries मैनेजमेंट एवं एडमिनिस्ट्रेटिव structure में सुधार
  • सभी मछली कार्यकर्ता एवं मछली ranchers को सोशल, physical एवं फ़ाइनेंशियल security की मदद दी जाएगी।
  • सभी एग्रीकल्चर GVA एवं fare में मदद मिलेगी।
  • सभी मोडर्निज़िंग एवं रेफोर्सिंग मेरिट चैन में सुधार।
  • सभी मछली पकड़ने वाले और काम करने वालों की age को बढ़ाना चाहिए।

 

मत्स्य Sampada योजना के लाभार्थी

आपको इस योजना से जुड़े सभी लाभार्थियों के बारे में बताएंगे। इस योजना को सभी मछली पकड़ने वाले और मछली से मिलता हुआ काम करने वाले लोगों के लिए बनाया गया है। वह सब इस योजना में आवेदन कर सकते हैं।

  • मछली किसान
  • मछली कामगार
  • मछली को बेचने वाले
  • सभी SCs/ महिला/ एसटी/ और अलग अलग विकलांग व्यक्ति
  • FPO
  • Fisheries विकास निगम
  • Fishers
  • सेल्फ हेल्प ग्रुप (SHG)/ जॉइंट लायबिलिटी ग्रुप (JLG)
  • Fisheries निगम/ Federations
  • इंडिविजुअल Entrpreneurs


मत्स्य Sampada योजना (PMMSY) का प्रभाव

यहां अब हम आपको इस योजना से जुड़े प्रभाव के बारे में बताएंगे। आपको बता दें कि भारत में इस योजना को शुरू करने में बहुत प्रभाव पड़ेगा, जो कुछ इस तरह है:

  • आपको बता दे इस योजना से मछली उत्पादन को 2024 तक 137.58 लाख metric टन (2018-19) से बढ़ाकर 220 लाख metric टन करने में मदद मिलेगी।
  • इस योजना से सभी मछली production में लगभग 9% की average वार्षिक growth को बनाए रखने में मदद मिलेगी।
  • इस योजना से 2018-19 में कृषि GVA के 7.28% से कृषि क्षेत्र के GVA के योगदान को 2024-25 तक लगभग 9% तक बढ़ाने में मदद मिलेगी।
  • इस योजना से 2024-25 तक ₹4,689 करोड़ (2018-19) से लगभग ₹1,00,000 करोड़ तक निर्यात आय दोगुनी हो जाएगी।
  • इस योजना से वर्तमान राष्ट्रीय average 3 टन से लगभग 5 टन प्रति हेक्टेयर एक्वाकल्चर में उत्पादकता में सुधार का एलान करेगी।
  • इस योजना से बाद की फसल के नुकसान की जानकारी 20-25% से कम होकर लगभग 10% हो जाएगी।
  • इस योजना से सभी घरेलू मछली की consumption को 5-6 किलोग्राम से लगभग 12 किलोग्राम प्रति व्यक्ति करने में मदद करेगी।
  • इस योजना से सप्लाई और वैल्यू chain के साथ मछली पलने वाले क्षेत्र में लगभग 55 लाख प्रत्यक्ष और indirect रोज़गार की संभावनाओं को पैदा करेगी।


प्रधान मंत्री मत्स्य सम्पदा योजना रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

आप सभी को बता दें कि इस योजना में रजिस्ट्रेशन करने के लिए अभी केंद्र सरकार की तरफ से कोई ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन नहीं है। यानि कि अभी तक कोई भी ऑनलाइन वेबसाइट की जानकारी सरकार की तरफ से नहीं आई है। जैसे ही कोई वेबसाइट की सूचना मिलेगी, आप सब को तभी जानकारी दे दी जाएगी। इसलिए आप सब हमारी वेबसाइट पर इस आर्टिकल को देखते रहें और सूचना प्राप्त करते रहें।


“अगर आप इस लेख में दी गई जानकारी से संतुष्ट नहीं है, तो आप अपना सुझाव नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में दे सकते है।”

 

Frequently Asked Questions 


प्रधान मंत्री मत्स्य सम्पदा योजना का क्या उद्देश्य है?

इस योजना का उद्देश्य यह है कि सभी प्रकार के मछली पकड़ने वाले मछुआरे, एवं मछलियों का काम करने वाले कामगार और उनसे संबंधित सभी काम करने को सरकार की तरफ से एक आर्थिक सहायता दी जा रही है जिससे  पूरे देश की GDP, एम्प्लॉयमेंट एवं venture में सुधार होगा।


मत्स्य संपदा स्कीम के लिए कौन-कौन लाभार्थी होंगे?

इस योजना के लिए सभी मछली किसान, मछली कामगार, मछली को बेचने वाले, सभी SCs/ महिला/ एसटी/ और अलग अलग विकलांग व्यक्ति और आदि लाभार्थी है।


PMMSY में कोरोनावायरस आत्मनिर्भर भारत योजना के तहत कितनी राशि की सहायता दी जा रही है?

इस योजना में कुल 20000 करोड़ की सहायता दी जा रही है। 


क्या इस योजना में सभी ranchers को लाभ मिलेगा?

जी हां, इस योजना से सभी ranchers की सैलरी दोगुना बढ़ा दी जाएगी और उन्हें लाभ मिलेगा।

Leave a Comment