आयुष्मान भारत स्कीम: मुफ्त Coronavirus जांच एवं इलाज

जैसा कि आप जानते हैं कि कोरोनावायरस नाम की वैश्विक महामारी ने पूरे विश्व को घेर रखा है, और लाखों की तादाद में लोग रोज मर रहे हैं इस कोरोनावायरस की वजह से देखते ही देखते भारत देश भी इस कोरोनावायरस की चपेट में आ गया है, और भारत देश में भी रोज लोगों की संक्रमण की खबरें आ रही है, भारत सरकार ने 21 दिन के लॉक डाउन का आदेश दे दिया है और इसी के साथ ही कोरोनावायरस की जांच एवं इलाज के लिए काम शुरू कर दिया है। भारत सरकार ने कोरोनावायरस हेतु लोगों की जांच करने का आदेश दिया है और यदि किसी व्यक्ति मैं कोरोनावायरस के सिम्टम्स पाए जाते हैं तो उस व्यक्ति को क्वॉरेंटाइन कर दिया जाएगा जब तक कि वह कोरोनावायरस के संक्रमण से मुक्त नहीं हो जाता।  इसी के साथ ही सरकार ने भारत की जनता से यह निवेदन भी किया है यदि किसी व्यक्ति को कोरोना संक्रमण के लक्षण दिखाई देते हैं तो उस परिस्थिति में वह व्यक्ति खुद को क्वॉरेंटाइन कर लें एवं नज़दीकी हस्पताल में अपने आप को दिखाए और कोरोनावायरस का इलाज करवाए।

Ayushman Bharat scheme

 

Coronavirus की जांच करवाने के लिए कम से कम ₹3000 से ₹4000 की जरूरत पड़ती है, और यह रकम एक गरीब व्यक्ति के लिए बहुत होती है, क्योंकि बहुत से व्यक्ति भारत देश में गरीबी रेखा के नीचे हैं और पैसे की कमी होने की वजह से वह कोरोनावायरस की जांच नहीं करवा सकते और यदि उन्हें कोरोनावायरस होता है तो उन्हें पता ही नहीं होगा कि वह कोरोनावायरस से संक्रमित हैं और वह अपने साथ औरों की भी जान के दुश्मन बन जाएंगे, इस गंभीर समस्या को देखते हुए देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थियों को मुफ्त में कोरोनावायरस की जांच और उसका इलाज प्रदान करने की बात कही है।

Topic आयुष्मान भारत स्कीम: मुफ्त कोरोनावायरस जांच एवं इलाज
Category

कोरोनावायरस से जुड़ी आयुष्मान भारत स्कीम

Official Website ———–

Ayushman Bharat Yojana Scheme 

कोरोनावायरस की जांच में धन खर्च होने की समस्या को देखते हुए प्रधानमंत्री जी ने आयुष्मान भारत स्कीम में आने वाले व्यक्तियों को मुफ्त में कोरोनावायरस की जांच एवं उसका इलाज प्रदान करने का निर्णय लिया है, इसका मतलब अगर कोई व्यक्ति कोरोनावायरस से संक्रमित हैं और वह आयुष्मान भारत स्कीम का हिस्सा है तो उस परिस्थिति में उस व्यक्ति की कोरोनावायरस जांच एवं उसका इलाज मुफ्त में होगा।

वैसे तो देश में कई संस्थान हैं जो कि मुफ्त में कोरोनावायरस की जांच एवं उसका इलाज प्रदान कर रहे हैं लेकिन जैसे ही प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने यह ऐलान किया कि आयुष्मान भारत स्कीम के अंतर्गत आने वाले नागरिकों को मुफ्त में कोरोनावायरस की जांच एवं उसका इलाज दिया जाएगा, वैसे ही कोरोनावायरस की जांच करवाने वाले लोगों की संख्या लगभग 50 करोड़ हो चुकी है। इस संख्या से हम यह अनुमान लगा सकते हैं कि धन की कमी की होने की वजह से कितने लोग इस बीमारी से जूझ रहे थे और अब इस निर्णय की वजह से वह लोग अपनी कोरोना जांच आसानी से करवा पाएंगे।  इसी के साथ ही भारत सरकार ने यह निर्णय भी लिया है, कि नागरिकों को कोरोनावायरस टेस्ट किट एवं कोरोनावायरस से बचने के लिए मास्क मुफ्त में उपलब्ध करवाए जाएंगे।

भारत देश में बहुत सारे हस्पताल एवं स्वास्थ्य संस्थाएं आयुष्मान भारत योजना के तहत आती हैं,परंतु इन संस्थाओं एवं अस्पतालों को इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के नियमों के अंतर्गत ही कोरोना की जांच एवं उसका इलाज करना होगा, इन संस्थाओं एवं अस्पतालों में जाकर आप अपनी मुफ्त में करुणा जांच एवं उसका इलाज करवा सकते हैं, इस प्रक्रिया के लिए आपको एक भी पैसा देने की जरूरत नहीं है।

Frequently Asked Questions

क्या आयुष्मान भारत स्कीम में आने वाले लाभार्थियों की मुफ्त में कोरोना वायरस जांच एवं इलाज होगा?

जी हां, आयुष्मान भारत स्कीम में आने वाले लाभार्थियों की मुफ्त में कोरोनावायरस जांच एवं इलाज होगा।


कोरोनावायरस इलाज के लिए हमें किस स्वास्थ्य संस्था एवं अस्पताल में जाना होगा?

जांच के लिए आपको उन अस्पताल एवं स्वास्थ्य संस्थाओं में जाना होगा जो आयुष्मान भारत स्कीम के अंतर्गत आते हैं।


यदि हम आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत नहीं आते हैं तो उस परिस्थिति में क्या हमको कोरोनावायरस जांच के लिए पैसा देना होगा?

जी हां, इस परिस्थिति में आपको कोरोनावायरस की जांच के लिए जांच शुल्क भरना होगा

Leave a Comment